केंद्र सरकार के कर्मचारियों  को आने वाले कुछ समय में एक के बाद एक कई फायदे मिल सकते हैं. इनमें त्योहारी मौसम से पहले सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्‍ते में एक बार फिर 3 फीसदी की बढ़ोतरी होने वाली है. आसान शब्‍दों में समझें तो 1 जुलाई 2021 से डीए को 17 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी तक बहाल करने के कुछ ही महीनों बाद उन्हें फिर बढ़ोतरी दी जाएगी. जुलाई 2021 में केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था कि केंद्र सरकार ने सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए डीए 11 फीसदी बढ़ाकर 28 फीसदी करने का फैसला किया है.

केंद्र सरकार के कर्मचारियों को इस त्योहारी सीजन में डीए और डीआर की दर में फिर 3 फीसदी की वृद्धि हो सकती है. इससे केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगी का डीए और डीआर बेसिक सैलरी का 28 फीसदी से बढ़कर 31 फीसदी हो जाएगा. डीए और डीआर में वृद्धि के अलावा केंद्र सरकार के कर्मचारियों को कुछ अन्य लाभ भी मिलेंगे, जिनकी घोषणा हाल ही में की गई थी. आइए जाने हैं कि केंद्रीय कर्मचारियों को त्‍योहारी सीजन में कौन-से 5 बड़े फायदे मिल सकते हैं. केंद्रीय कर्मचारियों की पारिवारिक पेंशन की सीमा 45000 रुपये से बढ़ाकर 1.25 लाख रुपये कर दी गई है. मृत कर्मचारियों के परिजनों की मदद और उन्हें पर्याप्त वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए केंद्र ने यह कदम उठाया था.

बता दें, मोदी सरकार ने अपने घर बनाने के इच्छुक सरकारी कर्मचारियों को सस्ती ब्याज दरों पर लोन देने के लिए जून 2020 में हाउस बिल्डिंग एडवांस की शुरुआत की थी. इसके अलावा रिटायर हो चुके केंद्र सरकार के पेंशनभोगियों के रजिस्‍टर्ड मोबाइल और ई-मेल पर सीधे एसएमएस, ईमेल व व्हाट्सऐप के जरिये पेंशन पर्ची भी देना शुरू कर दिया है. वहीं, डीए और डीआर के अलावा बढ़ा हुआ हाउस रेंट अलाउंस (HRA) भी मिलेगा. बता दें कि डीए 25 फीसदी से ज्‍यादा होने पर एचआरए खुद ही बढ़ जाता है. बढ़े हुए एचआरए का लाभ केंद्रीय कर्मचारियों को मिलना शुरू हो गया है.