पेयजल से जुड़ी योजना पर काम चलने के चलते और भूमिगत जलाशय के प्रस्तावित सफाई कार्य के कारण बृहस्पतिवार को दिल्ली के कई इलाकों में पेयजल आपूर्ति प्रभावित रहेगी. दिल्ली जल बोर्ड का कहना है कि सोनिया विहार जल शोधन संयंत्र के नजदीक स्थित रेनी वेल से पानी भरने के लिए जो नई जगह बनाई बनाई गई है, वहां बोरवेल बनाने के लिए पानी उपलब्ध कराना है. इस वजह से ताहिरपुर मुख्य पाइप लाइन से 22 सितंबर को पानी आपूर्ति प्रभावित रहेगी. इस वजह से गमरी गांव, यमुना विहार, भजनपुरा, उत्तरी व पश्चिमी घोंडा, मौजपुर के कई इलाके, दिलशाद गार्डन, सीमापुरी, नंद नगरी, मंडोली, सबोली, हर्ष विहार और इसके आसपास के इलाकों में पेयजल आपूर्ति प्रभावित रहेगी.

वहीं, इसके अलावा भूमिगत जलाशय के सफाई कार्य के कारण 22 सितंबर को ही शालीमार बाग एसी ब्लाक, रोहिणी सेक्टर 21 पाकेट सात में पेयजल आपूर्ति प्रभावित रहेगी. वहीं 23 सितंबर को रोहिणी सेक्टर 23 के पाकेट दो व शालीमार बाग के बीसी ब्लाक में पेयजल आपूर्ति प्रभावित रहेगी. लिहाजा जल बोर्ड ने लोगों को सलाह दी है कि वे अपनी जरूरत के मुताबिक पानी भरकर रख लें. पेयजल किल्लत होने लोग जल बोर्ड के केंद्रीय काल सेंटर के नंबर (1916) पर काल कर सकते हैं.

गौरतलब है कि दिल्ली के तीन प्रमुख जल शोधन संयंत्र हैं, जहां पानी का शोधन किया जाता है. तीनों में 245 एमजीडी पानी का उत्पादन होना चाहिए, लेकिन कमी होने से एनडीएमसी, मध्य दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली और दक्षिणी दिल्ली के बड़े इलाकों में पानी की आपूर्ति बाधित हो जाती है.