विराट कोहली के लिए पिछले कुछ दिन ठीक नहीं रहे हैं. पहले उन्होंने ऐलान किया वे टी20 वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया की टी20 टीम की कप्तानी छोड़ देंगे. फिर कहा कि आईपीएल 2021 के बाद वे आरसीबी (RCB) की कमान भी नहीं संभालेंगे. अब टी20 लीग के दूसरे चरण के पहले मुकाबले में टीम को केकेआर ने 9 विकेट से रौंद दिया. यह कोहली का आरसीबी की ओर से 200वां मैच था और केकेआर को गेंद शेष रहते सबसे बड़ी जीत मिली. केकेआर ने 60 गेंद शेष रहते हुए यह मुकाबला जीत लिया. यह केकेआर का भी 200वां आईपीएल मैच था.

बता दें, विराट कोहली बतौर खिलाड़ी भी अब तक आईपीएल का खिताब नहीं जीत सके हैं. यह टी20 लीग का 14वां सीजन है. कोहली ने बतौर खिलाड़ी पहला मैच केकेआर के ही खिलाफ 18 अप्रैल 2008 को खेला था और टीम को 140 रन से बड़ी शिकस्त मिली थी. यह रनों के लिहाज से आज भी केकेआर की सबसे बड़ी जीत है. इसके बाद कोहली आईपीएल का खिताब नहीं जीत सके. अब जबकि केकेआर ने गेंद शेष रहते सबसे बड़ी जीत दर्ज कर ली है तो क्या कोहली को फिर खिताब के लिए लंबा इंतजार करना होगा.

वही, विराट कोहली बतौर कप्तान आईपीएल में 133 में से सिर्फ 60 मैच जीत सके हैं. यानी सिर्फ 48 फीसदी. यह लीग के बड़े कप्तानों के मुकाबले बेहद खराब है. सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने 196 में से 116 मैच जीते हैं. यह लगभग 59 फीसदी है. मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने 123 में से 72 मैच जीते हैं. लगभग 60 फीसदी. सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग दोनों ने 50 से अधिक मैच में कप्तानी की है. उनका जीत का प्रतिशत 50 फीसदी से अधिक रहा है.