बॉलीवुड एक्टर सलमान खान को मुंबई एयरपोर्ट पर सिक्योरिटी प्रोटोकॉल फॉलो करने की बात कह कर रोकने वाले सीआईएसएफ ऑफिसर (CISF Officer) पिछले दिनों सुर्खियों में आ गए थे. मौके पर मौजूद पैपराजी ने एक वीडियो वायरल किया था जिसमें सलमान को बिना चेकिंग करवाए अंदर जाते हुए एक ऑफिसर ने रोक लिया था. इसके बाद खबर आई कि ऐसा करने पर अधिकारी का फोन जब्त कर लिया गया ताकि वह किसी से बात न कर सके. इस खबर को सीआईएसफ ने निराधार बताया है.

सीआईएसएफ के ऑफिशियल ट्विटर पर इस खबर के बारे का खंडन करते हुए लिखा गया है ‘इस ट्वीट में दी गई जानकारी गलत और निराधार है. जबकि सच्चाई यह है कि अपनी ड्यूटी से मुस्तैदी से निभाने के लिए संबंधित ऑफिसर को अपने शानदार प्रोफेशनलिज्म के लिए पुरस्कार दिया गया है’.

सीआईएसएफ के इस ट्वीट के बाद लोग एक बार फिर सीआईएसएफ ऑफिसर के कदम की प्रशंसा कर रहे हैं. साथ ही सीआईएसएफ हेडक्वार्टर की भी तारीफ करते हुए लोगों की इस मामले में गलतफहमी दूर करने के लिए धन्यवाद दे रहे हैं.

बता दें कि जब सलमान खान को मुंबई एयरपोर्ट पर रोकने वाला वीडियो वायरल हुआ तब ऑफिसर की इस एक्शन की लोगों ने जमकर तारीफ की.  सोशल मीडिया पर सीआईएसफ ऑफिसर के ड्यूटी पर मुस्तैद रहने की प्रशंसा हुई. लेकिन, इस बीच खबर आई कि सीआईएसएफ ऑफिसर का मोबाइल जब्त कर लिया गया. इसके पीछे वजह बताई गई कि ऐसा इसलिए किया गया ताकि वह इस मामले पर मीडिया से बात ना कर पाएं. खैर अब इस खबर का खंडन सीआईएसफ ने कर ये भी साफ कर दिया है कि अधिकारी को सजा नहीं बल्कि पुरस्कृत किया गया है.

वीडियो 20 अगस्त को सामने आया था जब सलमान खान अपनी फिल्म ‘टाइगर 3’ की शूटिंग के लिए रुस जा रहे थे. अमित शर्मा के डायरेक्शन में बन रही इस फिल्म में उनके साथ कैटरीना कैफ भी हैं.