अफगानिस्तान में बिगड़ते हालात के बीच रूस ने एक चौंकाने वाला बयान दिया है. दरअसल रूस ने कहा है कि तालिबानी शासन में काबुल की स्थिति गनी की तुलना में बेहतर रहेगी. अफगानिस्तान में रूस के राजदूत दिमित्री जिरनोव ने तालिबान की प्रशंसा करते हुए कहा कि कट्टरपंथी इस्लामी समूह तालिबान ने पहले 24 घंटों में काबुल को गनी के शासन की तुलना में अधिक सुरक्षित बना दिया है. स्थिति शांतिपूर्ण और अच्छी है और शहर में सब कुछ शांत हो गया है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार जिरनोव ने यह बात मॉस्को के एको मोस्किवी रेडियो स्टेशन से करते हुए कही.

जिरनोव ने कहा कि गनी का शासन ताश के पत्तों की तरह बिखर गया. उनके समय अव्यवस्था चरम पर थी, लोगों ने उम्मीद खो दी थी और विकास शून्य हो गया था. लेकिन अब तालिबान के 24 घंटे के शासन से पता चलता है कि शहर में आने वाले दिनों में सबकुछ ठीक हो जाएगा. वहीं इस बीच रूस की राज्य समाचार एजेंसी आरआईए नोवोस्ती ने बताया कि काबुल में रूसी दूतावास ने सोमवार को आरोप लगाया कि गनी चार कारों और नकदी से भरा एक हेलीकॉप्टर लेकर काबुल से भाग गए. आरआईए ने कहा कि गनी ने देश का खजाना खाली कर दिया है.

इसके अलावा अफगानिस्तान पर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के विशेष प्रतिनिधि, जमीर काबुलोव ने सोमवार को कहा कि काबुल से गनी का भागना वहां की जनता की नजर में बेहद शर्मनाक था. उन्होंने कहा कि अफगान लोग ऐसे राष्ट्रपति को कैसे जवाबदेही दे सकते हैं.