कोरोना संक्रमण की घटती रफ्तार को देखते हुए दिल्ली में रहने वालों को सरकार कई तरह की रियायतें दे दी हैं. इसी क्रम में 9 जुलाई यानी सोमवार से दिल्ली सरकार ने साप्ताहिक बाजारों को भी खोलने की अनुमति दे दी है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मुताबिक गरीब और जरूरतमंद लोगों की आवश्यकताओं को देखते हुए सरकार ने वीकली मार्केट्स को खोलने का विचार किया है. सीएम ने इस बाबत ट्वीट कर कहा कि सरकार को इन लोगों के प्रति संवेदनशील है.

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अपने ट्वीट के जरिये साप्ताहिक बाजारों सहित अन्य सार्वजनिक स्थानों पर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की बात भी दोहराई. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि गरीब और जरूरतमंद लोगों की रोजी-रोटी इन साप्ताहिक बाजारों पर निर्भर होती है. सरकार इन लोगों के प्रति गंभीर है, लेकिन यह भी ध्यान रखना जरूरी है कोविड प्रोटोकॉल का पालन सख्ती से किया जाए. उन्होंने दिल्लीवासियों से अपील की कि बाजारों में या अन्य सार्वजनिक स्थानों पर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए गाइडलाइंस का पालन करें. मास्क पहनें और सोशल डिस्टेंस के नियमों का उल्लंघन न करें.

आपको बता दें कि दिल्ली में पिछले महीने से ही अनलॉक की प्रक्रिया के तहत सरकार ने बाजारों को खोलने की अनुमति दे दी है. साथ ही दिल्ली मेट्रो और डीटीसी बसों को भी पूरी क्षमता के साथ चलाए जाने का भी आदेश जारी कर दिया गया है. लेकिन इस बीच कई बाजारों में कोरोना गाइडलाइंस का पालन न होता देख कई बार इन्हें बंद करने की भी नौबत आ चुकी है. लक्ष्मी नगर, मंगल बाजार समेत कई इलाकों के बाजारों में स्थानीय प्रशासन ने बार-बार चेतावनी के बावजूद कोरोना गाइडलाइंस के उल्लंघन पर बाजारों को कुछ-कुछ दिनों के अंतराल के लिए बंद करने का आदेश दिया था. दिल्ली मेट्रो में भी यात्रियों के खड़े होकर सफर करने पर पाबंदी है.