पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ के मध्य प्रदेश के लाभार्थियों से बातचीत की. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ये दुखद है कि मध्‍य प्रदेश के अनेक जिलों में बारिश और बाढ़ की परिस्थितियां बनी हुई हैं. अनेक साथियों के जीवन और आजीविका दोनों प्रभावित हुई है. मुश्किल की इस घड़ी में भारत सरकार और पूरा देश, मध्य प्रदेश के साथ खड़ा है. पीएम मोदी ने कहा कोरोना से उपजे संकट से निपटने के लिए भारत ने अपनी रणनीति में गरीब को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना हो या फिर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोज़गार योजना, पहले दिन से ही गरीबों और श्रमिकों के भोजन और रोज़गार की चिंता की गई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, भारत ने कल ही 50 करोड़ वैक्सीन डोज लगाने के बहुत अहम पड़ाव को पार किया है. दुनिया में ऐसे अनेक देश हैं, जिनकी कुल जनसंख्या से भी अधिक टीके भारत एक सप्ताह में लगा रहा है. ये नए भारत का, आत्मनिर्भर होते भारत का नया सामर्थ्य है. पीएम मोदी ने कहा, ‘आजीविका पर दुनियाभर में आए इस संकट काल में ये निरंतर सुनिश्चित किया जा रहा है कि भारत में कम से कम नुकसान हो. इसके लिए बीते साल में अनेक कदम उठाए गए हैं और निरंतर उठाए जा रहे हैं. छोटे, लघु, सूक्ष्म उद्योगों को अपना काम जारी रखने के लिए लाखों करोड़ रुपए की मदद उपलब्ध कराई गई है.’

पीएम मोदी ने कार्यक्रम के दौरान इशारों ही इशारों में कांग्रेस पर भी हमला बोला. उन्‍होंने कहा कि वो गरीब के बारे में सवाल भी खुद पूछते थे और जवाब भी खुद ही देते थे. जिस तक लाभ पहुंचाना है, उसके बारे में पहले सोचा ही नहीं जाता था. आज अगर सरकार की योजनाएं ज़मीन पर तेज़ी से पहुंच रही हैं, लागू हो रही हैं तो इसके पीछे सरकार के कामकाज में आया परिवर्तन है. पहले की सरकारी व्यवस्था में एक विकृति थी.