लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह जमुई सांसद चिराग पासवान ने एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार पर बड़ा निशाना साधा है. सोमवार को दिवंगत निवर्तमान मेयर शिवराज पासवान उर्फ शिवा पासवान के आवास पर पहुंचे चिराग ने उनके स्वजनों से मुलाकात करते हुए सांत्वना दी. उन्होंने स्व. पासवान के भाई से घटना की जानकारी ली. चिराग ने कहा कि राज्य की नीतीश सरकार में दलितों को निशाना बनाकर हत्या की जा रही है. अनुसूचित जाति व जनजाति के लोग अपने को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. अपराधियों को सत्ता का संरक्षण मिला हुआ है.

चिराग पासवान ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार कभी भी खासकर दलित जनप्रतिनिधि की हत्या होने पर संवेदना व्यक्त करने तक नहीं जाते हैं. उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री ने उनके पिता को भी परेशान करने की कोशिश की. राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह चौपट हो गई है. निर्वरिोध मेयर बनने से शिवराज की लोकप्रियता बढ़ी थी. उन्होंने कहा कि स्व. शिवराज के परिवार से मेरा पारिवारिक संबंध है.

चिराग ने कहा कि पुलिस मुख्य आरोपित को अब तक गिरफ्तार नहीं कर जांच के नाम पर महज खानापूर्ति कर रही है. लोजपा का शिष्टमंडल जिलाधिकारी से मिलकर घटना की उच्चस्तरीय जांच की मांग करेगा. दलितों व महादलितों पर अत्याचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

बता दें कि सोमवार को लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद चिराग पासवान के चचेरे भाई प्रिंस राज भी दिवंगत मेयर के परिजनों से मिलने पहुंचे. उन्होंने भी कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े किए. प्रिंस राज ने कहा कि बिहार में अपराध का ग्राफ तेजी के साथ बढ़ा है. मेयर के हत्यारों को जल्द से जल्द पकड़कर सख्त सजा दी जाए.