प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने पर पीवी सिंधु को बधाई दी. विश्व चैंपियन छठी वरीय पीवी सिंधु ने टोक्यो में चीन की आठवीं वरीय ही बिंग जियाओ को सीधे गेम में हराकर बैडमिंटन महिला एकल स्पर्धा का कांस्य पदक जीता और ओलंपिक में दो पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनीं. सिंधु की जीत पर पीएम मोदी ने उन्हें बधाई देते हुए कहा, ‘पीवी सिंधु के शानदार प्रदर्शन से हम सभी उत्साहित हैं. वह भारत का गौरव हैं और हमारे सबसे उत्कृष्ट ओलंपियनों में से एक हैं.’

बता दें, दुनिया की सातवें नंबर की खिलाड़ी सिंधु ने मुसाहिनो फॉरेस्ट स्पोर्ट्स प्लाजा में 53 मिनट चले कांस्य पदक के मुकाबले में चीन की दुनिया की नौवें नंबर की बायें हाथ की खिलाड़ी बिंग जियाओ को 21-13, 21-15 से शिकस्त दी. सिंधु को सेमीफाइनल में चीनी ताइपे की ताइ जू यिंग के खिलाफ 18-21, 12-21 से शिकस्त झेलनी पड़ी थी.

सिंधु ने एकतरफा मुकाबले में अधिकांश समय दबदबा बनाए रखा और उन्हें बिंग जियाओ के खिलाफ अधिक पसीना नहीं बहाना पड़ा. दुनिया की सातवें नंबर की खिलाड़ी को एक बार फिर नेट पर आकर खेलने में परेशानी हुई, लेकिन वह रैली में दबदबा बनाने में सफल रही.

इसके अलावा भारतीय खिलाड़ी के क्रॉस कोर्ट स्मैश और ड्रॉप शॉट एक बार फिर दमदार रहे जिनका चीन की खिलाड़ी के पास कोई जवाब नहीं था. बिंग जियाओ को मूवमेंट में परेशानी हो रही थी जिसका सिंधु ने पूरा फायदा उठाया. युवा ओलंपिक खेलों की पूर्व स्वर्ण पदक विजेता बिंग जियाओ ने कई शॉट नेट पर उलझाए, जबकि कई शॉट बाहर मारे. इससे पहले पीवी सिंधु ने रियो ओलंपिक में रजत पदक जीता था.