जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता मिली है. प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा पाकिस्तानी आतंकवादी मारा गया है. कश्मीर जोन पुलिस के IGP विजय कुमार ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि प्रतिबंधित आतंकी संगठन  से जुड़ा पाकिस्तानी आतंकी लंबू को आज की मुठभेड़ में मार गिराया गया. दूसरे आतंकी की पहचान की जा रही है. आईजीपी कश्मीर ने इस कार्रवाई के लिए सेना और अवंतीपुर पुलिस को बधाई दी है.

सूत्रों के अनुसार लंबू जैश के संस्थापक मसूद अजहर से जुड़ा हुआ था. साल 2018 में लंबू अंतरराष्ट्रीय सीमा से कश्मीर में आया. उसका दूसरा कोड नाम सैफुल्ला था. जैश अपने सबसे महत्वपूर्ण कमांडर्स को कोड देता है. पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का रहने वाला अबू सैफुल्ला उर्फ ‘लंबू’  2019 के पुलवामा आतंकी हमले की साजिश रचने वालों में से एक था. बताया जाता है कि उसने हमले में इस्तेमाल आईईडी बनाया था.

इससे पहले पुलिस ने यह जानकारी दी थी कि सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने पर शनिवार सुबह नामिबियान तथा मारसार वनक्षेत्र और दाचीगाम के इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया. उन्होंने बताया कि तलाशी कर रहे दल पर आतंकवादियों ने गोलियां चलाई जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की जिसमें दो आतंकवादी मारे गए.