भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है. टीम ने अपने चौथे मुकाबले में 2016 रियो ओलंपिक की गोल्ड मेडलिस्ट अर्जेंटीना की टीम को 3-1 से मात दी. टीम की यह चार मैचों में तीसरी जीत है. टीम को न्यूजीलैंड, स्पेन और अर्जेंटीना के खिलाफ जीत मिली है. भारत को सिर्फ ऑस्ट्रेलिया से हार मिली. टीम ग्रुप-ए के अपने अंतिम मुकाबले में 30 जुलाई को मेजबान जापान से भिड़ेगी.

बता दें, मैच में भारत और अर्जेंटीना दोनों ने सधी शुरुआत की. पहले क्वार्टर में कोई गोल नहीं हुआ. दूसरे क्वार्टर में दोनों ही टीमें गोल नहीं कर सकीं. हाफ टाइम तक स्कोर 0-0 से बराबर था. दोनों ही टीमों ने पहले 30 मिनट में एक भी पेनल्टी कॉर्नर हासिल नहीं किए थे. 43वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर वरुण कुमार ने गोल करके भारत को 1-0 की बढ़त दिलाई.

वहीं, अर्जेंटीना ने चौथे क्वार्टर में वापसी की. 48वें मिनट में मैको स्कूथ ने पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करके स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया. इसके बाद दोनों टीमों ने आक्रामक खेल दिखाया. 58वें मिनट में भारत की ओर से विवेक सागर ने मैदानी गोल करके टीम को 2-1 की बढ़त दिला दी. फिर 59वें मिनट में हरमनप्रीत सिंह ने कॉनर्र पर गोल करके टीम को 3-1 की अजेय बढ़त दिलाई. भारत को कुल 8 कॉर्नर मिले और दो में भारत ने गोल किए.

तीसरी जीत के साथ भारतीय हॉकी टीम ग्रुप-ए में 9 अंक के साथ दूसरे नंबर पर है. ऑस्ट्रेलिया ने सभी 4 मुकाबले जीते हैं और 12 अंक के साथ टीम टॉप पर है. स्पेन, न्यूजीलैंड और अर्जेंटीना तीनों टीम के 4-4 मैच के बाद 4-4 अंक हैं. लेकिन गोल औसत के आधार पर स्पेन तीसरे, न्यूजीलैंड चौथे और अर्जेंटीना की टीम पांचवें स्थान पर है. मेजबान जापान के 4 मैच में 1 अंक हैं. टीम ने अब तक कोई मुकाबला नहीं जीता है.