हिमाचल प्रदेश में दसवीं, 11वीं और बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खोलने का कैबिनेट में फैसला लिया गया है. 2 अगस्त से इन कक्षाओं के लिए स्कूल खोले जाएंगे. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में यह फैसला लिया गया. स्कूलों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बनाए गए एसओपी का पालन करना होगा.

बता दें, कैबिनेट ने कोचिंग, ट्यूशन और ट्रेनिंग संस्थानों को 26 जुलाई से खोलने की अनुमति भी प्रदान की है. इन संस्थानों को कोरोना एसओपी का पालन करना होगा. 5वीं और 8वीं कक्षा के विद्यार्थी परामर्श के लिए 2 अगस्त से स्कूलों में आ सकते हैं. इनके लिए हाजिरी की अनिवार्यता नहीं होगी. ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी. रिसर्च स्कॉलरों को अनुसंधान के लिए विश्विद्यालय में आने की अनुमति होगी. विश्विद्यालय प्रशासन द्वारा इसके लिए शेडयूल जारी किया जाएगा.

गौरतलब है कि हरियाणा ने बीते दिनों नौवीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खोल दिए हैं.  मध्य प्रदेश सरकार ने 11वीं और 12वीं के स्कूलों को 26 जुलाई से खोलने का एलान किया है. गुजरात में 12वीं कक्षा के स्कूल 15 जुलाई से खुल गए हैं. उत्तर प्रदेश और पंजाब ने भी स्कूल खोलने का फैसला लिया है. इसी तर्ज पर हिमाचल प्रदेश सरकार ने भी फैसला लिया है.