राष्ट्रीय जनता दल (राजद) 18-19 जुलाई को बिहार के सभी ब्लॉकों में पेट्रोल, डीजल और एलपीजी की बढ़ती कीमतों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगा. तेजस्वी यादव ने घोषणा करते हुए कहा- कि राजद महागठबंधन के दलों को विरोध में शामिल होने के लिए पत्र लिखेगी. इतना ही नहीं, यादव ने अपने ट्विटर हैंडल से यह भी कहा कि रिकॉर्ड तोड़ महंगाई के विरोध में 18-19 जुलाई को राज्यव्यापी प्रदर्शन होगा.

बता दें, इससे पहले आज, कांग्रेस ने देश में ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार पर भी हमला किया क्योंकि पेट्रोलियम की दरें अब तक के उच्चतम स्तर पर हैं. कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा, “टीकाकरण दर में साठ प्रतिशत की गिरावट और ईंधन की कीमतों में 63 गुना वृद्धि – भाजपा स्पष्ट रूप से उन लोगों के घावों पर नमक छिड़कने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है जो भाजपा के ‘हजार कटों से जनता को खून’ के शिकार हैं.

वहीं, कल कांग्रेस के पी चिदंबरम ने भी महंगाई और ईंधन की बढ़ती कीमतों को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा और पेट्रोलियम उत्पादों पर कर और विभिन्न वस्तुओं पर आयात शुल्क कम कर तत्काल राहत की मांग की.

बता दें, देश के महानगरों और कई अन्य शहरों में पेट्रोल की कीमतें 100 रुपये को पार करने के साथ, ईंधन की कीमतें वर्तमान में रिकॉर्ड-तोड़ उच्च स्तर पर हैं.

दिल्ली में जहां बुधवार को पेट्रोल और डीजल के दाम 101.19 रुपये प्रति लीटर और 89.72 रुपये प्रति लीटर पर हैं, वहीं आज मुंबई में पेट्रोल और डीजल के दाम 107.20 रुपये और 97.29 रुपये प्रति लीटर हैं, कोलकाता में पेट्रोल की कीमत 101.35 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 92.81 रुपये प्रति लीटर है और चेन्नई में पेट्रोल और डीजल की कीमत क्रमशः 101.92 रुपये प्रति लीटर और 94.24 रुपये प्रति लीटर है.