ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शुक्रवार को ओडिशा में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MGNREGS) के तहत कार्यरत श्रमिकों को 352 करोड़ रुपये वितरित किए.

राज्य सरकार के अनुसार इस पैकेज से कुल 32 लाख मनरेगा श्रमिक लाभान्वित हुए हैं. श्रमिकों को उनके दैनिक वेतन के अलावा, अप्रैल, मई और जून के लिए 50 रुपये अतिरिक्त मिले.

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, “अप्रैल से जून तक के तीन महीनों के दौरान काम करने वाले श्रमिकों को उनके दैनिक वेतन के साथ अतिरिक्त 50 रुपये का भुगतान किया गया था. यह लाभार्थी के बैंक खाते में जमा किया जाता है. परिणामस्वरूप , प्रत्येक कार्यकर्ता को 4,500 रुपये तक का अतिरिक्त वेतन मिला. कुल 32 लाख श्रमिकों को 352 करोड़ रुपये मिले.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समारोह को संबोधित करते हुए, ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने कहा, “गरीबों के लिए मेरे दिल में हमेशा एक विशेष स्थान है और उनके कल्याण के लिए काम करने से मुझे संतुष्टि मिलती है. मुझे उम्मीद है कि यह वित्तीय सहायता श्रमिकों की मदद करेगी.

ओडिशा के पंचायती राज मंत्री प्रताप जेना ने राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से अवगत कराया और कहा कि सीएम द्वारा उठाए गए कदमों से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा.

सीएमओ के अनुसार, 2020 में मनरेगा योजना के तहत ओडिशा में कुल 20 करोड़ कार्यदिवस बनाए गए थे. इस वर्ष के दौरान, अब तक 7 करोड़ कार्यदिवस बनाए गए हैं और राज्य सरकार को 2021 में 25 करोड़ कार्यदिवस के लक्ष्य तक पहुंचने की उम्मीद है.