डाकघर मासिक आय योजना एक ऐसी बचत योजना है, जिसमें आप एक विशेष राशि का निवेश कर सकते हैं और हर महीने एक निश्चित ब्याज पा सकते हैं. वहीं ऐसा खाता कोई भी डाकघर में खोल सकता है. दरअसल कोई भी भारतीय निवासी खाता खोल सकता है. साथ ही ज्यादा से ज्यादा तीन वयस्क संयुक्त रूप से इस तरह का खाता खोल सकते हैं. इसके अलावा 10 साल से ज्यादा उम्र का कोई भी बच्चा अपने नाम पर पोमिस खाता खोल सकता है.

इस खाता को खोलने के लिए आवश्यक न्यूनतम राशि 1,000 रुपए है, लेकिन इसमें एक खाता धारक ज्यादा से ज्यादा 4.5 लाख रुपए तक ही जमा कर सकता है. वहीं संयुक्त खाते में ये सीमा 9 लाख तक हो सकती है, जिसमें निवेश में सभी धारकों की बराबर हिस्सेदारी रहेगी.

खाता खोलने से पहले ये ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि ब्याज का भुगतान खाता खोलने की तारीख से एक महीना पूरा होने पर किया जाता है. यदि आप हर महीने भुगतान किए गए ब्याज का दावा नहीं करते हैं, तो इस तरह के ब्याज पर कोई अतिरिक्त ब्याज नहीं मिलेगा. इसके अलावा निर्धारित सीमा से ज्यादा की कोई भी जमा राशि वापस कर दी जाएगी. वहीं कोई भी व्यक्ति अपने बचत खाते में ऑटो क्रेडिट के माध्यम से ब्याज भी निकाल सकता है.

जानकारी के मुताबिक जिस डाकघर में खाता खोला गया है, उस डाकघर में अपनी पासबुक के साथ निर्धारित आवेदन पत्र जमा करके कोई व्यक्ति पांच साल बाद खाता बंद कर सकता है. हालांकि, यदि वो व्यक्ति पोमिस खाते की परिपक्वता से पहले मर जाते है, तो इसे बंद किया जा सकता है और जमा राशि कानूनी उत्तराधिकारियों को वापस कर दी जाती है. इसलिए खाता खोलते समय व्यक्ति को अपने परिवार के किसी एक सदस्य का नाम देना होता है, जिससे यदि खाते की अवधि के दौरान व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है, तो वो लाभ का दावा कर सकता है.