दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार शाम को मौसम का मिजाज बदल गया है. दिल्ली के कई इलाकों में झमाझम बारिश हो रही है. मौसम के अचानक करवट बदलने से लोगों ने राहत की सांस ली है, मौसम ठंडा होने से लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली है तो वहीं, गाजियाबाद के इंदिरापुरम में तेज बारिश के चलते कई इलाकों की बिजली चली गई है.

गौरतलब हो कि राजधानी में गर्मी प्रतिदिन नए-नए रिकॉर्ड कायम कर रही थी, बीते कुछ दिनों से पड़ रही प्रचंड गर्मी से हर कोई परेशान था. दिल्ली-एनसीआर से मानसून भी रूठ गया है.जून में जहां मौसम विभाग का अनुमान था कि दिल्ली-एनसीआर में 15 जून तक मानसून आ जाएगा, वहीं 15 जून आने तक यह अनुमान भौगोलिक परिस्थितियों के कारण गलत साबित हुआ.

वहीं मौसम विभाग ने एक और अनुमान लगाया था कि जुलाई की शुरुआत में दिल्ली-एनसीआर में अच्छी बारिश हो सकती है, लेकिन जुलाई के पहले ही दिन जिस तरह की गर्मी पड़ी उसने 89 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया लेकिन जुलाई के दूसरे दिन दिल्ली के कई इलाकों में हुई झमाझम बारिश ने लोगों को राहत दी.

आपको बता दें, जुलाई का पहला दिन बीते 89 सालों में सबसे गर्म रहा. 1931 के बाद पहली बार अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया. वहीं, न्यूनतम तापमान भी बीते एक दशक में सबसे ज्यादा 31.7 डिग्री सेल्सियस रहा, दूसरी तरफ दिल्ली लगातार तीसरे दिन लू के थपेड़े झेलती रही.